National

राफेल की खूबियां जो पढ़ीं-सुनीं, वह कल हवा में दिखाएगा, ध्वनि से भी तेज रफ्तार से जाएगा ऊपर

Bag news India

राफेल फाइटर जेट की 10 सितंबर को इंडियन एयरफोर्स में औपचारिक एंट्री भी धमाकेदार होगी। इसी दिन अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन में 17 गोल्डन एरो स्क्वाॅड्रन के पायलट रफाल जेट के साथ आकाश में वह कलाबाजियां करके दिखाएंगे, जोकि अब तक केवल सुनीं या पढ़ीं होंगी। राफेल तेज रफ्तार से आकाश का सीना चीरते हुए हवा में उड़ेगा और कई कलाबाजियां दिखाएगा।

अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन में 10 सितंबर को होने वाले समारोह के लिए राफेल जेट के चुनिंदा पायलट प्रतिदिन पांचों राफेल के साथ जोरदार अभ्यास कर रहे हैं। इनके अभ्यास के दौरान पूरा आकाश थर्रा रहा है। ध्वनि से भी तेज रफ्तार से उड़ने वाला राफेल जेट एक दम खामोशी से आता है और जोरदार गर्जना के साथ पलभर में ही आंखों से ओझल हो जाता है। इस ऐतिहासिक क्षण पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह एवं फ्रांस की रक्षामंत्री फलोरेंस पार्ले भी मौजूद रहेंगे।

क्लाइंब रेट 60 हजार फीट प्रति मिनट

राफेल जेट का क्लाइंब रेट (चढ़ाई दर) 60 हजार फीट प्रति मिनट है। विमान जमीन से आकाश तक पहुंच जाता है। यह करतब भी राफेल फाइटर जेट 10 सितंबर को होने वाले समारोह में दिखाएगा। इसके अलावा रफाल एरो फार्मेशन में बेहद नीचे उड़ान भरेंगे। राफेल विमानों के अलावा सुखोई-30 एमकेआई, जगुआर एवं अन्य श्रेणी के विमान भी करतब दिखाएंगे। जगुआर और सुखोई-30 एरो फार्मेशन में एक साथ समारोह स्थल के ऊपर से उड़ेंगे।

29 जुलाई को अम्बाला पहुंचे थे 5 राफेल

बता दें कि 29 जुलाई को पहले 5 राफेल विमान ग्रुप कैप्टन हरकीरत सिंह की अगुवाई में अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन में लैंड किए थे। इन विमानों का एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने स्वागत किया गया था। 17वीं गोल्डन एरो स्क्वाॅड्रन को पिछले साल सितंबर माह में अम्बाला में पुन: खड़ा किया जा चुका है। स्क्वाॅड्रन के कुछ पायलट और क्रू राफेल विमानों की ट्रेनिंग हासिल कर चुके हैं, जबकि शेष अभी भी फ्रांस में ट्रेनिंग ले रहे हैं।

रक्षामंत्री के आगमन को लेकर कड़ी सुरक्षा

मारोह में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह व फ्रांस की रक्षामंत्री फ्लोरेंस पार्ले के अलावा अन्य वीआईपी शामिल होंगे। अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन के अलावा छावनी क्षेत्र के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी है। सैन्य टीमें गश्त पर उतर आई हैं। सेना की हथियारबंद टुकड़ियां बाजारों एवं मुख्य मार्गों पर गश्त कर रही हैं। सेना क्षेत्रों को जाने वाले मार्गों पर भी चौकसी बढ़ा दी गई है।

Categories: National

Tagged as: ,

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s