Haryana

कैथल में 3 गोदामों से 52 हजार लीटर ज्वलनशील पदार्थ बरामद और 156 ड्रम में काला तेल और 100 में हाईड्रोकार्बन मिला सीएम फ्लाइंग की रेड के दौरान

बैग न्यूज कैथल

सीएम फ्लाइंग ने शुक्रवार को चंदाना गेट पर तीन गोदामों में छापेमारी की। छापेमारी में 300 ड्रामों में 52 हजार लीटर ज्वलनशील पदार्थ मिला। इनमें से करीब 156 ड्राम में काला तेल और 100 ड्राम में हाईड्रोकार्बन मिला है। हैरानी की बात ये है कि गोदामों के मालिक के पास ज्वलनशील पदार्थ को लेकर न तो किसी तरह का लाइसेंस था और न ही खरीद संबंधी कोई कागजात।

सीएम फ्लाइंग के इंस्पेक्टर कंवर सिंह की शिकायत पर सिटी थाना पुलिस ने आरोपी राजू सैनी के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम, धोखाधड़ी और ज्वलनशील पदार्थ रखकर मानव जीवन संकट में डालने जैसी धाराओं के तहत केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। सीएम फ्लाइंग के डीएसपी रविंद्र कुमार ने बताया कि गुप्ता सूचना के बाद यह कार्रवाई की गई है।

आरोपी मालिक के गोदामों में भारी मात्रा में ज्वलनशील पदार्थ मिला है। इस तरह से तेल जमा करना कानूनी रूप से अवैध है और अब तक किसी तरह का लाइसेंस या दस्तावेज तेल की खरीद और सप्लाई संबंधी आरोपी नहीं दिखा पाया है। अब तेल कहां से खरीदा जाता था और कहां बेचा जाता था, यह जांच के दौरान सामने आएगा। बताया जा रहा है कि आरोपी आसपास के जिले से ही तेल की खरीद करता था और फैक्ट्रियों व भट्ठियों में इसे सप्लाई करता था। हालांकि पूरे मामले का खुलासा पूछताछ के बाद ही हो पाएगा।

काला तेल व ज्वलनशील पदार्थ जमा करने की स्थानीय प्रशासन को नहीं थी जानकारी

भारी मात्रा में काला तेल और ज्वलनशील पदार्थ जमा करने की सूचनाएं स्थानीय प्रशासन के पास नहीं थी। हालांकि नकली तेल और अवैध रूप से तेल की सप्लाई की सूचनाएं कुछ दिन पहले सोशल मीडिया पर भी देखने को मिली थी और पुलिस पर कार्रवाई न करने के आरोप भी लगाए थे। पेट्रोल पंप मालिक पूर्ण चंद ने कहा कि नकली तेल का खेल लंबे समय से चल रहा है और काफी पंपों पर यह मिक्स कर बेचा भी जाता है।

मानव जीवन संकट में डाल सकता था ज्वलनशील से होने वाला विस्फोट : एक्सपर्ट रामकरण शर्मा

अग्निशमन विभाग के असिस्टेंट फायर ऑफिसर व एक्सपर्ट रामकरण शर्मा ने बताया कि काला तेल ज्यादा खतरनाक नहीं है, लेकिन उसके साथ 100 ड्रामों में हाईड्रोकार्बन (सी-9) भी मिला है। ये बहुत ज्यादा खतरनाक है। विस्फोट होने पर आसपास के क्षेत्र में भारी नुकसान होने की संभावना तो थी ही, साथ ही इस पर काबू पाना भी अग्निशमन विभाग के लिए आसान नहीं होता। पानी डालने पर ये और फैलता है, इससे निकलने वाले धुआं आखों के लिए खतरनाक है, इससे सांस, टीबी और स्किन संबंधी समस्याएं हो सकती थी।

सीएम फ्लाइंग के इंस्पेक्टर कंवर सिंह की शिकायत पर आरोपी राजू के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम एक्ट, धोखाधड़ी और ज्वलनशील पदार्थ रखने की धाराओं के तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है। भारी मात्रा में ज्वलनशील पदार्थ कहां से लाया गया था और कहां सप्लाई किया जाना था और कौन-कौन लोग इसमें शामिल हैं, यह तो पूछताछ के बाद ही सामने आ पाएगा।अमित कुमार, एसएचओ, थाना सिटी, कैथल।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s