Haryana

अतिक्रमण रुकवाने पहुंचे फोरेस्ट अधिकारी को फंदा लगाकर मारने का प्रयास और नाजुक हालात के चलते नारनौल रेफर, सरपंच समेत 6 लोगाें पर लगाया आरोप

bag news Haryana

कालबा गांव में अतिक्रमण रुकवाने पहुंचे फोरेस्ट अधिकारी को अतिक्रमणकारियों ने फंदा लगाकर मारने का प्रयास किया, परंतु राहगीरों ने बीच-बचाव किया तो जानलेवा वारदात टल गई। हमले में घायल दो अधिकारियों को सीएचसी में भर्ती कराया गया। जहां रेंज अधिकारी को सांस लेने में परेशानी होने पर नारनौल रेफर कर दिया। मौके पर पहुंचे थाना इंचार्ज ने पीड़ितों के बयान लेकर केस दर्ज करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

पीड़ित रेंज अधिकारी रजनीश यादव ने बताया कि वे नायन गांव में फोरेस्ट रकबे का निरीक्षण करके नांगल चौधरी लौट रहे थे। कालबा गांव के पास सड़क किनारे 4-5 लोग विभाग की जमीन को मिट्टी से समतल करके वहां अतिक्रमण कर रहे थे। अधिकारियों ने कार्रवाई का अल्टीमेटम देते हुए अतिक्रमण प्रक्रिया बंद करने के निर्देश दिए तो आरोपी सरपंच व अन्य लोगों का गुस्सा उबाल खा गया। उन्होंने सरकारी गाड़ी की घेराबंदी करके अधिकारी व कर्मचारियों को नीचे उतार लिया।

https://bagnews.in/2020/09/17/दौड़-लगाने-गए-सात-बच्चों-क/

आरोप है कि सरपंच व दो अन्य लोगों ने तौलिये का फंदा बनाकर उनके गले में डाल दिया और दोनों तरफ से तौलिये को खींचने लगे। दम घुटने की वजह से पीड़ित अधिकारी जमीन पर गिर गया। इसी दौरान कुछ राहगीर मौके पर पहुंच गए। उन्होंने दुष्परिणामों का हवाला देकर बीच-बचाव किया। इसके बावजूद अतिक्रमणकारी शांत नहीं हुए और गांव से 2-3 लोग और बुला लिए। अब उन्होंने लाठी और डंडों से हमला बोल दिया। वारदात में एक डिप्टी रेंजर के सिर, हाथ, छाती व अन्य शारीरिक अंगों पर गंभीर चोट लगी हैं। रेंजर रजनीश को नाक, गर्दन, दांत में फ्रैक्चर होने की आशंका है। नाजुक हालात को देखते हुए चिकित्सक अविनाश पूनिया ने पीड़ितों को नारनौल रेफर कर दिया। पुलिस को दिए बयानों में पीड़ितों ने बताया कि आरोपियों ने कालबा गांव की सीमा में दुबारा दिखाई देने पर जान से मारने की धमकी दी है। चिकित्सकों की एमएलआर रिपोर्ट मिलने के बाद थाना प्रभारी राजकरण ने केस दर्ज करने तथा तत्परता पूर्वक कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

वारदात की सूचना मिलते ही जिला फोरेस्ट अधिकारी विपिन कुमार मौके पर पहुंचे। उन्होंने पहले घायल अधिकारियों को अस्पताल में भर्ती कराया। इसके बाद घटना स्थल का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि आरोपियों ने विभाग की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के साथ सरकारी ड्यूटी में बाधा उत्पन्न की है। हमले में दो अधिकारी बाल-बाल बचे हैं। वारदात की शिकायत पुलिस में दर्ज करवा दी है। नांगल चौधरी ब्लॉक में रजनीश की नियुक्ति करीब 7-8 साल से है। अवैध खनन व पेड़ों की कटाई रोकने में उनकी अहम भूमिका रही है, जिस कारण उन पर कालबा गांव की पहाड़ी में पहले भी हमला हो चुका। जैनपुर, आंतरी, बायल में भी रेंज अधिकारी विभिन्न परेशानियों का सामना करते रहे हैं। अब अतिक्रमण रुकवाने की कार्रवाई पर जानलेवा हमला होना चर्चा का केंद्र बना हुआ है।

थाना इंचार्ज राजकरण ने बताया कि कालबा गांव के सरपंच व महिलाओं समेत 5-6 अन्य लोगों ने फोरेस्ट टीम पर हमला कर दिया। शिकायत और एमएलआर रिपोर्ट मिलने पर केस दर्ज करने की प्रक्रिया आरंभ कर दी है। आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि आरोपी लोग वन विभाग की जमीन पर अतिक्रमण कर रहे थे। बंद करने के निर्देशों पर हमला व जानलेवा जैसी वारदात को अंजाम दिया गया है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s