Haryana

सीएम के नाम की धौंस और खुद को भाजपा का नेता बताने वाले का पुलिस फोर्स ले जाकर निगम टीम ने उखाड़ा मीटर

Bag news – Sirsa

शहर की राम कॉलोनी में पहले दिन डिफाल्टर बिजली उपभोक्ताओं का कनेक्शन काटने गई बिजली निगम की टीम से सीएम के नाम की धौंस दिखाकर हाथापाई करने वाले नेता के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने और उसकी गिरफ्तारी की मांग को लेकर बिजली कर्मचारियों ने कामकाज छोड़ दिया और नारेबाजी की। कर्मचारियों और अधिकारियों के रोष को देखते हुए निगम के उच्चाधिकारी एक्शन में आए और एसडीओ के नेतृत्व में टीम गठित करके कथित भाजपा नेता के यहां छापेमारी का आदेश दिया। दो एसडीओ के नेतृत्व में भारी पुलिस बल लेकर बिजली निगम की टीम राम कॉलोनी में पहुंची और डिफाल्टर उपभोक्ता सूरजभान और पारस राम के बिजली मीटर उखाड़ लिए।

पारस राम का एक लाख 22 हजार रुपये बिल पेडिंग था। जबकि सूरजभान का 27 हजार रुपये पेडिंग थे। टीम ने पुलिस प्रशासन के सहयोग से 20 मिनट में दोनों कनेक्शन काटते हुए बिजली मीटरों को जब्त कर लिया। हालांकि इस दौरान परिवार के लोगों ने हलका विरोध जताया। लेकिन टीम ने अनसुना करते हुए अपनी कार्रवाई जारी रखी। इसी दौरान जल्दबाजी में किसी अन्य उपभोक्ता का कनेक्शन कट गया। जब उसने बताया तो उसका कनेक्शन वापस जोड़ दिया गया।

पहले दिन हाथापाई करते हुए महिला जेई को दी थी धमकी

बिजली निगम ने डिफाल्टर उपभोक्ताओं के खिलाफ कनेक्शन काटने का अभियान चला रखा है। शुक्रवार को महिला जेई कमलेश रानी और एक अन्य जेई के नेतृत्व में टीम राम कॉलोनी में पहुंची थी। जेई कमलेश कौर ने आरोप लगाया कि यहां पर सूरजभान और पारसराम का कनेक्शन काटने लगे तो इनके ही परिवार से ही गुरराज नामक व्यक्ति खुद को भाजपा नेता और सीएम का खास बताकर टीम के साथ हाथापाई करने पर उतर गया। सीएम के नाम की धौंस दिखाकर रौब झाड़ना शुरू कर दिया।

जेई ने आरोप लगाया कि गुरराज ने धमकी दी कि उसने सफेद कुर्ता पजामा ऐसे ही नहीं पहन रखा। तुम सबको सबक सिखा देगा। जेई ने बताया कि आखिर में वे लोग हाथापाई पर उतर आए और उनके मोबाइल छीन लिए। जिसके बाद टीम को बैरंग लौटना पड़ा था। जेई ने पूरे मामले की शिकायत सिविल लाइन थाना में दर्ज करवाई थी। इसके बाद शनिवार को बिजली निगम प्रशासन ने दो एसडीईओ जिसमें पुष्पेंद्र शर्मा, सुरेंद्र कुमार रेडू, दो जेई कमलेश रानी व बिंदर मान के अलावा फोरमेन, लाइन मेन पर आधारित एक टीम गठित की।

मीटर की सील तोड़ लगा रखा था ताला, कनेक्शन काटने लगे तो बिल भरने की लगाने लगा गुहार

बिजली निगम की टीम ने मौके पर जाकर देखा तो दीवार पर लगे मीटर की सील तोड़कर दो ताले लगा रखे थे, जिनको टीम ने तोड़ा और कनेक्शन काटकर मीटर को उखाड़ लिया। इसके बाद टीम दूसरे मकान के बाहर पोल पर लगा मीटर उखाड़ने पहुंची, तो मकान मालिकों ने बिल भरने की गुहार टीम से लगाई, लेकिन उनकी किसी ने एक नहीं सुनी और कनेक्शन काटते हुए मीटरों को जब्त कर लिया गया। उधर निगम कर्मचारियों ने आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने तक हड़ताल जारी रखने की चेतावनी दी है।

जेई के साथ हाथापाई नहीं की, बहसबाजी जरूर हुई: गुरराज

सोमवार को दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। जेई ने मेरे साथ अभद्र व्यवहार किया और बेइज्जती की थी। जबकि मैंने जेई के साथ कोई हाथापाई नहीं की। हालांकि बहसबाजी जरूर हुई है। वो भी निवेदन के तौर पर। बाकी आरोप झूठे है। मैने भी शिकायत दर्ज करवाई है। मेरे भाई और पिता बीजेपी संगठन से जुड़े हुए है। मेरे पिता के नाम मीटर जरूर है। मगर वो हमने मकान बेच रखा है। हमारा बिल पेंडिंग नही है। -गुरराज खट्टर।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s