Sports

वॉटसन-डू प्लेसी से पहले किन 18 गेंदों में हार गया पंजाब?

Bag news –

शेन वॉटसन, फाफ डू प्लेसी और विंटेज चेन्नई सुपर किंग्स. आईपीएल सीज़न 2020 के 18वें मैच में फैंस को ये तीन चीज़ें जमकर चलती हुई दिखीं. किंग्स इलेवन पंजाब और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेले गए मैच को सीएसके ने 10 विकेट से जीत लिया.

पंजाब ने पहले बैटिंग करते हुए 178 रन बनाए. लेकिन इसके बाद पंजाब की बोलिंग और सीएसके की बैटिंग में वो हुआ जो हर रोज़ क्रिकेट के मैदान पर नहीं दिखता. यानि सीएसके ने इस टार्गेट को 10 विकेट बाकी रहते सिर्फ 17.4 ओवर में हासिल कर लिया.

शेन वॉटसन ने फॉर्म में वापसी करते हुए शानदार 83 रन बनाए. जबकि फाफ डू प्लेसी ने 87 रनों की शानदार पारी खेली. चेन्नई की टीम इस जीत के साथ नंबर छह पर आ गई है.

लेकिन इस मैच में वो कौन सा पलटू मोमेंट आया. जिसने किंग्स इलेवन पंजाब से ये मैच छीन लिया. वैसे तो चेन्नई सुपर किंग्स के लिए शेन वॉटसन और फाफ डू प्लेसी ने जैसी बैटिंग की. उससे बड़ा मैच पलटू मोमेंट कोई नहीं हो सकता.

लेकिन फिर भी पंजाब की पारी में आखिरी ओवरों में हुई एक गलती उन्हें भारी पड़ गई.

पंजाब ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग चुनी. कप्तान राहुल और मयंक ने एक बार फिर से टीम को बढ़िया स्टार्ट दिया. दोनों ने पहले विकेट के लिए 61 रन जोड़े. इसके बाद मयंक आउट हुए तो मंदीप सिंह आ गए. मंदीप ने भी 16 गेंदों पर 27 रन की बढ़िया पारी खेली. उनके आउट होने पर निकोलस पूरन आ गए. पूरन ने भी तेज़ तर्रार केमियो खेला. उन्होंने 17 गेंदों पर 33 रन बना दिए.

मनीष पांडे ने लपका इशान का कैच, किशन ने दिया करारा जवाब

17वें ओवर तक ये सारे बल्लेबाज़ पंजाब की कहानी सेट कर रहे थे. केएल राहुल हर प्लेयर का बखूबी साथ निभा रहे थे. 17 ओवर खत्म होने पर पंजाब का स्कोर 152 रन हो गया था. इसके बाद धोनी ने शार्दुल ठाकुर को ओवर दिया. बस यहां से पंजाब की कहानी पलट गई.

सिर्फ 102 गेंदों पर 152 रन बनाकर खेल रही पंजाब को देखकर लग रहा था कि स्कोर 200 के पार जाने वाला है. लेकिन शार्दुल के 18वें ओवर में पंजाब ने लगभग घुटने टेक दिए. ओवर की पहली दोनों गेंदों पर दो विकेट गिरे.

सबसे पहले पूरन, जडेजा को कैच देकर लौटे. इसके बाद अगली गेंद पर ही राहुल, धोनी के गलव्स में कैच देकर लौट गए.

बाद में सरफराज़ और मैक्सवेल ने कोशिश पूरी की लेकिन रन नहीं बना सके. आखिर की 18 गेंदों पर पंजाब ने सिर्फ 26 रन बनाए. इन 18 गेंदों ने पंजाब की बढ़िया स्टार्ट को खराब फिनिश के साथ खत्म कर दिया.

क्योंकि अगर पंजाब या कोई भी टीम बोर्ड पर 200+ का स्कोर खड़ा करती है तो फिर सामने वाली टीम के सामने एक अलग तरह का प्रेशर होता है.

लेकिन फिर भी चेन्नई की इनिंग में तो पूरा का पूरा मैच वॉटसन और डू प्लेसी ने ही पलटकर रख दिया.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s