Haryana

विधायकों के फोन न उठाने और आउटसोर्सिंग में भ्रष्टाचार के आरोप पर सिविल सर्जन सस्पेंड

Bag news –

कैथल सिविल सर्जन डाॅ. जयभगवान जाटान को स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार को सस्पेंड कर दिया। सिविल सर्जन के खिलाफ विधायक लीलाराम गुर्जर व कौल सीएचसी के डाॅ. अजय शेर ने मंत्री अनिल विज को शिकायत की थी। उनके सस्पेंड होने का कारण विधायकों को जानकारी दिए बिना आउटसोर्सिंग पर भर्ती करना माना जा रहा है। भर्ती में भ्रष्टाचार की आशंका के भी आरोप हैं।

विधायक लीलाराम गुर्जर ने दो दिन पहले स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर सिविल सर्जन को सस्पेंड करने की मांग की थी, जिसमें आरोप लगाए थे कि सिविल सर्जन के खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायतें मिल रही हैं। फोन करते हैं तो ऐसा लगता है कि अधिकारी नशे में है। सीएमओ ने अपने अधीनस्थ अधिकारियों को भी आदेश दिए हुए हैं कि वे कैथल व पूंडरी के विधायकों के फोन न उठाएं। विधायक लीलाराम के अलावा कौल सीएचसी के एसएमओ डाॅ. अजय शेर ने भी 28 सितंबर को पत्र लिखकर सीएमओ पर भ्रष्टाचार व नाजायज परेशान करने के आरोप लगाए थे।

सिविल सर्जन डाॅ. जयभगवान जाटान ने इस मामले पर कोई भी टिप्पणी करने से मना कर दिया। जयभगवान जून में जींद के सिविल सर्जन रहते एएमओ भर्ती विवाद में सस्पेंड हुए थे। उन पर हाईकोर्ट के स्टे होने के बावजूद एनएचएम में कॉन्ट्रैक्ट पर एएमओ की भर्ती करने व भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे। जींद विधायक डाॅ. कृष्ण मिड्ढा के साथ भी इनका विवाद रहा था और कहा था कि विधायक प्रेशर बना रहे हैं। इससे पहले उनके गुड़गांव समेत दो जगह भी सस्पेंड होने की बात आई है।

Categories: Haryana

Tagged as:

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s