crime

फैक्टरी मालिक की महिला मित्र गिरफ्तार, 5 दिन के रिमांड पर

Bag news –

दोस्त की गला दबाकर हत्या कर अपनी कार में जिंदा जलाकर अपनी मौत का ड्रामा रचने वाले फैक्टरी मालिक राममेहर की महिला मित्र हांसी की जगदीश कॉलोनी की सुनीता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उसको अदालत में पेश किया जहां से उसको 5 दिन के रिमांड पर भेज दिया। वहीं पुलिस ने राममेहर की फैक्ट्री में बीमा से संबंधित कागजात खंगाले। पुलिस ने बताया कि राममेहर की कार में मिले शव के डीएनए का मिलान उसकी मां के डीएनए से किया जाएगा, ताकि यह स्पष्ट हो सके कि राममेहर ने रमलू की ही हत्या की थी।

रमलू के परिजनों की मांग पर पुलिस ने राममेहर के खिलाफ दर्ज मामले में एससीएसटी एक्ट की धारा भी जोड़ ली है। हांसी के एसपी लोकेंद्र सिंह ने बताया कि राममेहर को शुक्रवार को छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से गिरफ्तार किया था। पूछताछ में उसने बताया कि लॉकडाउन के बाद उसको फैक्टरी में काफी नुकसान हुआ और वह करीब डेढ़ करोड़ रुपए के कर्ज में डूब गया था। इसको उतारने के लिए एसबीआई से 1.1 करोड़ रुपए का व पीएनबी बैंक से 50 लाख रुपये की बीमा पॉलिसी ली थी। इसके बाद पहले आत्महत्या की योजना बनाई ताकि परिजनों को बीमा क्लेम मिल जाए और कर्जा उतर जाए। बाद में अपनी हत्या की साजिश रची ताकि वह अपनी नई जिंदगी शुरु कर लेंगे।

इस बारे में सदर हांसी थाना पुलिस ने इस बारे में 7 अक्टूबर को राममेहर के भाई अमित की शिकायत पर दो मोटरसाइकिल व एक कार सवार अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 396 व 201 के तहत मामला दर्ज किया था।

पीड़ित परिवार के लिए मांगे 50 लाख

नेशनल अलायंस और दलित ह्यूमन राइट्स के संयोजक रजत कलसन रविवार को पीड़ित परिवार के साथ थाना सदर हांसी पहुंचे थे। यहां उन्होंने डीएसपी धर्मवीर से मिलकर मामले में एससीएसटी एक्ट की धारा जोड़ने की मांग की। इस पर मामले में एससीएसटी धारा जोड़ दी गई। रजत कलसन ने डीएसपी धर्मवीर से मृतक के परिजनों की तरफ से मांग की कि पीड़ित परिवार को एससी एसटी एक्ट और डॉ अंबडेकर फाउंडेशन व मुख्यमंत्री राहत कोष से 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाए। कलसन ने बताया कि मृतक रमलू के 6 छोटे-छोटे बच्चे हैं और उनकी आमदनी का दूसरा कोई साधन नहीं है। डीएसपी ने इस बताया वह जल्द ही मृतक की मां के खून के सैंपल भी लेंगे ताकि जली हुई कार में जले शव की वैज्ञानिक तरह से पहचान कराई जा सके।

Categories: crime, Haryana

Tagged as: ,

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s