Haryana

रोहतक में ढाबे से 40,500 लीटर स्प्रिट पकड़ी, छोटी खेप में हरियाणा, यूपी व राजस्थान में करते थे सप्लाई, 24 गिरफ्तार

bag news – Rohtak

रोहतक | अवैध स्प्रिट मामले में पकड़े आरोपी।

गांव काहनी के पास सीएम फ्लाइंग की टीम ने एक ढाबे पर रेड की। यहां से 40,500 लीटर स्प्रिट बरामद की है। यह मध्य प्रदेश के भोपाल और पंजाब की राजपुरा डिस्टलरी से लाई गई थी। पुलिस जांच में डिस्टलरी और आबकारी विभाग के कुछ लोगों की माफिया से मिलीभगत सामने आ रही है। वहीं, सीएम फ्लाइंग ने गिरोह के सरगना तीन भाइयों में से दो भाई समेत 24 लोगों को गिरफ्तार किया है।

रूखी गांव का संदीप व उसका भाई कुलदीप सरगना है। बाकी आरोपियों में ढाबे के कारिंदे, ड्राइवर व मजदूरी करने वाले हैं। आरोपी पिछले दो साल से काहनी गांव के पास बने भोले दा ढाबा में रैकेट को चला रहे थे। आरोपियों ने बताया कि अवैध रूप से लाई स्प्रिट शराब माफिया को शराब बनाने के लिए हरियाणा के कई जिलों, यूपी और राजस्थान में सप्लाई करनी थी। आरोपियों का भाई रणदीप उर्फ नन्हा फरार है। पुलिस ने रोहतक सदर थाना में केस दर्ज किया है।

10 गाड़ियां भी बरामद

सीएम फ्लाइंग के एसआई सतपाल ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि ढाबे के कमरों में ड्रमों व कैन में रखी साढ़े 40 हजार लीटर स्प्रिट बरामद हुई। मौके से 10 के करीब गाड़ियां भी मिलीं, जिनमें कार व टैंपो शामिल हैं। इनमें स्प्रिट लोकल रूट से शराब माफिया के पास भेजी जानी थी। आरोपियों से 96 हजार रुपए भी बरामद हुए हैं।

बंधक बना रखे थे मजदूर

गिरफ्तार 24 आरोपियों में अधिकतर मजदूर व ड्राइवर हैं। 17 मजदूरों ने बताया कि उन्हें माफिया ने ढाबे पर काम करने को बुलाया था। इसके बाद से बंधक बनाकर काम करवा रहे हैं। उन्हें बाहरी लोगों से नहीं मिलने दिया जाता। श्रम विभाग व आबकारी विभाग जांच कर रहा है।

16 लाख में भोपाल से टैंकर में लाई गई थी 25 हजार लीटर स्प्रिट

गिरफ्तार ड्राइवर रमेश ने बताया कि वह मध्यप्रदेश के भोपाल की डिस्टलरी से 25 हजार लीटर स्प्रिट 16 लाख रुपए में लाया था। तस्कर भाइयों के भोपाल की डिस्टलरी और आबकारी विभाग से संपर्क थे। जाली कागजातों पर स्प्रिट लाया था। 2 बार पंजाब के राजपुरा की डिस्टलरी से आसाम के लिए बुक हुई स्प्रिट लाया था। इन खेप को 200-200 लीटर के ड्रमों व कैनियों में शराब माफिया को सप्लाई किया गया था। ड्राइवर ने बताया कि नन्हा ने 20 लाख रुपए देकर करनाल भेजा था। बाद में महताब ने उसे टैंकर में 25 हजार लीटर स्प्रिट भरकर दिया। दो बार इस तरह से स्प्रिट की सप्लाई ली है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s