Haryana

सिरटा में स्वामित्व योजना के तहत राज्यमंत्री ने बांटी डीड रजिस्टर्ड, बोलीं-सभी गांवों को किया जाएगा लाल डोरा मुक्त

bag news – Kaithal

जिला के 11 गांव अब लालडोरा मुक्त गांव बन गए हैं। स्वामित्व योजना के तहत प्रशासन ने उक्त गांवों के लोगों को लालडोरा के अंदर उनकी जमीन की रजिस्ट्रियां कराकर दे दी हैं। इससे ग्रामीणों को मालिकाना हक मिल गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वामित्व योजना का शुभारंभ वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से किया और लाभार्थियों से संवाद भी किया। हरियाणा की महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने जिला के सिरटा गांव में तो अन्य भाजपा नेताओं व विधायकों ने भी निर्धारित गांवों में जाकर ग्रामीणों को रजिस्ट्रियां सौंपी।

राज्यमंत्री द्वारा सिरटा गांव में 485 डीड रजिस्टर्ड वितरित की जा रही हैं, जबकि कैथल जिला में कुल 2790 डीड रजिस्टर्ड को गांव निवासियों को सौंपा गया है। जिनमें से कैथल तहसील के तहत आने वाले विभिन्न गांवों में कुल 1710 डीड रजिस्टर्ड और सीवन तहसील के विभिन्न गांवों में 1080 डीड रजिस्टर्ड वितरित की जा रही हैं। प्रथम चरण में इस योजना के शुरुआत में हरियाणा के 22 जिलों के 242 गांव को लाल डोरा मुक्त किया जा रहा है। प्रत्येक जिले से 11 गांव लाल डोरा मुक्त होंगे और गांव निवासियों को उनकी जमीन का मालिकाना हक सरकारी कागजों में दर्ज होंगे और आगे हर तहसील में 11-11 गांवों को लाल डोरा मुक्त किया जाएगा।

हरियाणा की महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि स्वामित्व योजना से गांव में रहने वाले लोगों को उनकी जमीन का मालिकाना हक मिला है, जिससे अनेक प्रकार की योजनाओं का लाभ लाभार्थी पा सकते हैं। इस अवसर पर एसडीएम डॉ. संजय कुमार, बीडीपीओ रोजी, तुषार ढांडा, सरपंच पार्वती शर्मा, कुलदीप, रामपाल सिरटा, सुरेश राज राणा, राजेंद्र शर्मा, डा. महेंद्र, सतीश शर्मा, सतबीर, बलदेव, जसमेर, जंगीर सिंह, बीरबल, बलराज, वसीम अहमद आदि मौजूद रहे।

स्वामित्व योजना के तहत लाल डोरा के दायरे में आने वाले वाली संपत्तियों की रजिस्ट्री हो सकेगी तथा उनकी खरीद फरोख्त शुरू होने के साथ ही बैंक लोन भी दे सकेंगे। सबसे बड़ा लाभ गांवों के आपसी झगड़े खत्म होने का होगा। डीडीपीओ जसविंद्र सिंह के अनुसार गांव निवासियों को उनकी जमीन का मालिकाना हक सरकारी कागजों में दर्ज हो सकेगा। प्रधानमंत्री ई-ग्राम स्वराज पोर्टल के माध्यम से ग्राम पंचायतों को अपनी विकास योजनाएं बनाने और उन्हें लागू करने में मदद मिलेगी।

कार्यक्रमों में डीसी भी वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से जुड़े
जिला के 11 गांव सिरटा, बुढ़ाखेड़ा, गढ़ी पाडला, संगतपुरा, बाबा लदाना, लैंडर पीरजादा, लैंडरकीमा, अटेला, मांझला, फर्शमाजरा, आंधली में स्वामित्व योजना के तहत लाभार्थियों को उनके मालिकाना हक के दस्तावेज सौंपे गए। लघु सचिवालय स्थित कांफ्रेंस हॉल मेंं वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का किसानों से संवाद लाइ्रव दिखाया गया, जिसमें डीसी सुजान सिंह, डीडीपीओ जसविंद्र सिंह, एलडीएम आरके कटारिया, डीआईओ दीपक खुराना आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s