Health

बच्चा पैदा होने के बाद ये 10 गलतियां भारी पड़ सकती हैं

बैग न्यूज

बच्चा पैदा होने के बाद ये 10 गलतियां भारी पड़ सकती हैं

आपकी और आपके बच्चे की सेहत को किसी तरह का कोई नुकसान न पहुंचे, इसलिए आम ग़लतियां हैं जो आपको अवॉइड करनी हैं

यहां बताई गई बातें, इलाज के तरीके और खुराक की जो सलाह दी जाती है, वो विशेषज्ञों के अनुभव पर आधारित है. किसी भी सलाह को अमल में लाने से पहले अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछें. बैग न्यूज आपको अपने आप दवाइयां लेने की सलाह नहीं देता.

डिलीवरी के बाद आपको सिर्फ़ अपनी सेहत ही नहीं, अपने बच्चे की सेहत का भी ध्यान रखना पड़ता है. आप पहले से थोड़ी डरी हुई होती हैं. नई जान. कुछ ऊपर-नीचे न हो जाए. साथ ही रिश्तेदार, परिवार वाले, दोस्त हर कोई अपनी राय दे रहा होता है. ये करो. वो करो. हम समझ सकते हैं कि कितना प्रेशर फील होता है. आसान नहीं है. पर ये भी एक दौर है. निकल जाएगा. आपकी और आपके बच्चे की सेहत को किसी तरह का कोई नुकसान न पहुंचे, इसके लिए कुछ आम ग़लतियों से आपको बचकर रहना है. क्या हैं वो. जानिए डॉक्टर्स से.

डिलीवरी के बाद ये ग़लतियां न करें

Doctor Shrupti
डॉक्टर धुरूपती देधिया, स्त्रीरोग विशेषज्ञ, महाराष्ट्रा

-डिलीवरी के बाद जो खाना दिया जाता है उसमें शीरा होता है. ज़्यादा घी दिया जाता है. बोला जाता है कि ज़्यादा घी खाने से बच्चा तंदुरुस्त होगा. ज़्यादा दूध पिलाया जाता है ताकि शरीर में दूध अच्छा बने. ये दोनों बातें सही नहीं हैं

-औरत अगर प्रोटीन, कार्बोहायड्रेट, और विटामिन्स का सेवन बराबर से करे. जैसे रोटी, चावल, और सब्जियां तो बच्चा हेल्दी होगा. दूध में जो पहुंचता है वो सिर्फ़ ये तीन चीज़ें हैं

-आप अगर तीखा, या अनहेल्दी खाते हैं तो वो दूध में नहीं तब्दील होता. दूध का स्वाद वैसा ही रहता है

-हर इंसान का डाईजेशन अलग होता है. पोस्ट डिलीवरी एंटीबायोटिक दिए जाते हैं. पेनकिलर दिए जाते हैं. अगर उसके साथ मसाले वाला खाना खाया तो एसिडिटी होती है. नींद पूरी नहीं होती इसलिए एसिडिटी और बढ़ती है

– खस-खस, कोकोनट, शतावरी की सब्जी. जिन औरतों में ज़्यादा दूध नहीं बनता उनको ये सब दिया जाता है

11 Benefits of Breastfeeding for Both Mom and Baby
कुछ नेचुरल चीज़ें हैं जिससे औरत के दूध का प्रोडक्शन बढ़ सकता है

-जिन औरतों में ज़्यादा दूध बनता है उन्हें ये चीज़ें अवॉइड करनी चाहिएं ताकि ब्रेस्ट में सूजन न हो. दूध न भर जाए. गांठे न पड़ जाएं

-कई औरतों को पोस्ट डिलीवरी ठूस-ठूसकर खाना खिलाया जाता है. उससे वज़न काफ़ी ज़्यादा बढ़ जाता है

– नॉर्मल घी खाएं, पौष्टिक खाएं, छोटे-छोटे इंटरवल में खाएं

-पानी ज़्यादा पिएं

-पोस्टपार्टम डिप्रेशन के बारे में बात नहीं होती. औरत की नॉर्मल लाइफ में बदलाव आ जाता है. दिन-रात बच्चे के साथ रहना पड़ता है. पर कई औरतों को इससे ज़्यादा डिप्रेशन होता है. जान लेने के ख़याल आते हैं. इस डिप्रेशन को समझना और मदद लेना बहुत ज़रूरी है

आपको क्या-क्या अवॉइड करना है. ये तो पता चल गया. पर एक चीज़ और है जिसका ख़ास ख़याल रखना है. डाइट. क्योंकि सही डाइट न सिर्फ़ आपके शरीर के लिए ज़रूरी है, ये आपके बच्चे के लिए भी बेहद ज़रूरी है.

Vibhusha
डॉक्टर विभूषा जामबेड़कर, डायटीशियन, पुणे

-बच्चे के जन्म के दौरान जो घाव हुए होते हैं वो डिलीवरी के बाद रिपेयर होते हैं. इसलिए हर रोज़ गर्म दूध या पानी में हल्दी लें

-मेथी से दूध की मात्रा बढ़ती है. रातभर पानी में भिगोई हुई मेथी खाइए

-बाजरा भी खा सकते. बाजरे की रोटी खा सकते हैं. या बाजरे को रातभर पानी में भिगोकर उसकी खीर बना सकते हैं

-डिलीवरी के बाद गैस की काफ़ी समस्या रहती है. इसलिए अजवाइन लें. रात में पानी के साथ अजवाइन खाएं

अपनी और अपने बच्चे की सेहत का ध्यान रखिए. कोई भी मां बनना सीखकर नहीं आता. इसलिए गलती होने पर खुद को कोसिए नहीं. अगर आपको लग रहा है आप कुछ ठीक से नहीं कर पा रही. तो इट्स ओके. रिलैक्स. स्ट्रेस लेकर कुछ हासिल नहीं होगा. इसलिए खुद के साथ ज़्यादा कठोर मत होइए.

Categories: Health

Tagged as: ,

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s