Latest

प्रदेश में 19 से शुरू होगा काले कानूनों का विरोध

Bag news –

सिरसा केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए तीन कृषि कानूनों के विरोध में शहीद भगत सिंह स्टेडियम में चल रहे पक्का मोर्चा धरने पर बृहस्पतिवार को 17 किसान संगठनों के पदाधिकारियों की आवश्यक बैठक हुई। हरियाणा किसान मंच के प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने बताया कि बैठक में सर्वसम्मति से फैसला लिया गया कि 19 अक्तूबर से पूरे हरियाणा में तीनों काले कानूनों के विरोध में प्रचार अभियान शुरू किया जाएगा। इसके लिए बकायदा संगठनों के पदाधिकारियों व किसानों की टीमें बनाई जाएंगी, जो गांव-गांव जाकर इन कालेकानूनों के प्रति किसानों को जागरूक करेंगी। भारूखेड़ा ने बताया कि 22 अक्तूबर को पूरे प्रदेश में सिरसा के आंदोलन के दमन के विरोध, तीनों कानूनों को वापिस लेने व उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के इस्तीफे के लिए सभी जिलों में ज्ञापन दिए जाएंगे। शुक्रवार से सीएम सिटी करनाल में गुरुमुख सिंह की अध्यक्षता में सिरसा के किसानों के आंदोलन के समर्थन में धरना शुरू किया जाएगा।

बैठक में भारतीय किसान यूनियन से जोगेंद्र घासीराम नैन, भारतीय किसान यूनियन (अ) से महासचिव दिलबाग हुड्डा, भारतीय किसान संघर्ष समिति से विकास सिसर, भारतीय किसान मजदूर नौजवान यूनियन से राजेंद्र आर्य, हरियाणा किसान संघर्ष समिति मनदीप रतिया (नथवान), भारतीय किसान मजदूर संयुक्त यूनियन से सुखदेव विर्क, किसान मजदूर सोसायटी से बाबा संतोक पंवार, प्रगतिशील किसान तोशाम हरियाणा से रमेश पंघाल, किसान यूनियन (अ) से सतबीर पूनियां, किसान संघर्ष समिति दादरी से जगबीर धसौला, भूमि बचाओ संघर्ष समिति से रणबीर फौजी, अन्नदाता किसान यूनियन से गुरुमुख सिंह, किसान बचाओ आंदोलन से राजीव गोदारा, भारतीय किसान यूनियन लोहारू, संयुक्त जल संघर्ष समिति से मा. सतबीर, भारतीय किसान यूनियन गणराज्य से डा. रफीक आजाद शामिल हुए।

वहीं किसानों के दुसरे गुट ने गोपाल कांडा के निवास के समक्ष धरना दिया। इस मौके पर जसवीर सिंह भाटी, बूटा सिंह, लखविन्द्र सिंह औलख, गुरदास सिंह लकड़ावाली, गुरनाम सिंह झब्बर सहित अनेक किसान नेता मौजूद थे।

कृषि कानूनों की प्रतियां फाड़ कर जलायी

पिहोवा (निस) : आल इंडिया किसान खेत मजदूर संगठन ने अनाज मंडी में केन्द्र सरकार के तीन काले कानूनों व बिजली बिल के विरोध में धरना दिया और कानूनों की प्रतियां फाड़ कर जला कर विरोध जताया। ये तीनों कानून किसान-मजदूर व आम जनता विरोधी हैं, इनको वापस लिया जाए। आल इंडिया किसान खेत मजदूर संगठन के जिला सचिव कामरेड राजकुमार सारसा ने प्रेस को जारी बयान में कहा कि आज सारे देश में विरोध प्रदर्शन किये जा रहे हैं। धरने पर संजू, किशन चंद, रामफल, काकू, रामपाल आदि मौजूद थे। 

भाकियू एवं किसान सभा का 15वें दिन भी धरना

नरवाना (अस) : भारतीय किसान यूनियन व अखिल भारतीय किसान सभा के संयुक्त बैनर तले किसानों द्वारा गढ़ी गांव की अनाज मंडी के बाहर दिया जा रहा धरना बृहस्पतिवार को 15वें दिन भी जारी रहा। धरने की अध्य्क्ष्ता सरदार सन्तोख सिंह ने की। किसान सभा के नेताओं सतबीर खरल तथा चांद बहादुर ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा कृषि क्षेत्र में बनाए गये तीनों कानून न केवल किसान विरोधी हैं बल्कि आम जन विरोधी भी हैं। इस अवसर पर सरदार मंजीत सिंह, साहब सिंह, प्रताप सिंह, नाहर सिंह, रूलदू सिंह, पूर्ण सिंह, दिलबाग सिंह, छन्ना सिंह, हरजीत सिंह सरपंच, सोहन सिंह, सुखचैन सिंह, रिसाल सिंह सहित कई किसान मौजूद रहेे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s