Haryana

गुपचुप तरीके से चल रही घी की फैक्ट्री, अधिकारी बोले-फैक्ट्री में गड़बड़ी है, टीम ने घी व तेल सील करके लिए पांच सैंपल

बैग न्यूज – कैथल

कैथल|सीएम फ्लाइंग की रेड के बाद सैंपल लेती खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की टीम।

सीएम फ्लाइंग की टीम ने शनिवार सुबह शक्ति नगर में चल रही घी की फैक्ट्री में रेड की। फैक्ट्री को गुपचुप ढंग से मकान में चलाया जा रहा था। ज्वलनशील पदार्थ होने के बावजूद रिहायशी एरिया में चल रही फैक्ट्री में फायर सेफ्टी का कोई इंतजाम नहीं था। टीम को मौका से 65 लीटर रिफाइंड व 730 लीटर तेल बरामद हुआ। फूड सेफ्टी ऑफिसर डाॅ. राजीव शर्मा की टीम ने फैक्ट्री से घी के दो व तेल के तीन सैंपल लेकर सील कर दिए है। डाॅ. शर्मा ने कहा कि सैंपल की रिपोर्ट आने के बाद ही गुणवत्ता का पता चलेगा, लेकिन उन्हें कुछ गड़बड़ी लग रही है। मिस ब्रांडिंग की जा रही है।

शक्ति नगर में श्मशानघाट के सामने वाली गली में घी की फैक्ट्री चलाई जा रही है। जहां सुबह 11 बजे सीएम फ्लाइंग व खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने संयुक्त छापेमारी की। मकान में चल रही फैक्ट्री के बाहर किसी प्रकार का बोर्ड नहीं लगा था। बाहर से कोई देखकर नहीं बता सकता कि अंदर फैक्ट्री चलाई जा रही है। टीम अंदर पहुंची तो वहां रिफाइंड, तेल व घी के टीन मिले।

प्लास्टिक की नई खाली बोतलों व डिब्बों का भी बड़ा स्टॉक था, जिनमें तेल व घी भरा जाना था। फैक्ट्री नगर परिषद के एक पूर्व चेयरमैन के रिश्तेदार की बताई जा रही है। पूर्व चेयरमैन का भतीजा व चाचा जांच में लगी टीम को कई बार फैक्ट्री में ही बने दफ्तर में लेकर गए। जहां दोनों पक्षों के बीच बंद कमरे में काफी देर तक बातचीत हुई। खादय सुरक्षा विभाग के अधिकारी सैंपल लेने में व्यस्त रहे जबकि सीएम फ्लाइंग के अधिकारियों ने दफ्तर में बैठकर कुछ गुपचुप चर्चा की। रेड के बाद फैक्ट्री से मिले सामान के बारे में बताने से सीएम फ्लाइंग के इंस्पेक्टर बचते रहे।

बड़ी मात्रा में तेल होने के बावजूद आगजनी से निपटने का इंतजाम नहीं

फैक्ट्री में बड़ी मात्रा तेल होने के बावजूद आगजनी से निपटने के लिए कोई इंतजाम नहीं है। खतरनाक ढंग से चल रही फैक्ट्री को इस विषय पर अधिकारियों ने भी नजरअंदाज कर दिया। जबकि फैक्ट्री के आसपास परिवार रहते हैं। कुछ दिन पहले इस फैक्ट्री से ही कुछ दूरी पर सीएम फ्लाइंग ने रेड करके काला तेल पकड़ा था। काला तेल का स्टॉक करने वाले पर दूसरों की जान को खतरे में डालने का केस भी दर्ज करवाया था, लेकिन घी फैक्ट्री मालिक पर आगजनी विषय पर अधिकारियों के सुर ही बदल गए। सीएम फ्लाइंग के इंस्पेक्टर ने कहा कि इस बारे में तो फूड सेफ्टी ऑफिसर बताएंगे, फूड सेफ्टी ऑफिसर ने कहा कि फायर एनओसी का तो उनका महकमा ही नहीं है।

सीएम फ्लाइंग इंस्पेक्टर के बदले सुर

सीएम फ्लाइंग के इंस्पेक्टर कंवर सिंह की टीम ने 23 सितंबर को राजौंद एरिया में नीमवाला रोड पर चल रहे अवैध शराब ठेके को पकड़ा था। उस समय इंस्पेक्टर कंवर सिंह ने बताया कि था उनके पास जींद और कैथल एरिया का चार्ज है। मामले के बारे में पूरी जानकारी दी गई। वहीं दूसरी तरफ शनिवार की रेड में कंवर सिंह के सुर ही बदल गए। वे पूरे मामले में बचते नजर आए। रेड के बाद कंवर सिंह ने कहा कि मैं इस बारे में मीडिया को जानकारी देने के लिए अधिकारिक तौर पर सक्षम नहीं हूं। इस बारे में डीएसपी रविंद्र कुमार ही जानकारी दे सकेंगे।

चेक किया तो फैक्ट्री से घी मिला है। सही तो रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगा, लेकिन अभी कुछ गड़बड़ी लगी रही है। एससीडी डेयरी फूड प्रोडक्ट के नाम से फैक्ट्री चलाई जा रही थी। ज्योत का घी कहकर देना भी मिस ब्रांडिंग है, जो गलत है। फैक्ट्री के बाहर ऑन स्पॉट बोर्ड लगा देना चाहिए। पांच सैंपल लिए हैं। 65 टीन रिफाइंड व 730 लीटर तेल मिला। सभी आइटम सील कर दिए हैं। फैक्ट्री अमित कुमार के नाम से रजिस्टर्ड है। डाॅ. राजीव शर्मा, एफएसओ कैथल

Categories: Haryana, Kaithal

Tagged as: ,

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s