crime

2 लव जिहाद मामलों में कार्रवाई, इधर-निकिता के घर की सुरक्षा बढ़ाई

बैग न्यूज़ – फरीदाबाद

निकिता तोमर के घर बढ़ाई गयी सुरक्षा व्यवस्था।

रेवाड़ी के खोल खंड के गांव बासदूदा में रविवार को सामने आए लव जिहाद के मामले में अब एसआईटी जांच करेगी। यह एसआईटी डीएसपी मुख्यालय हंसराज की अगुवाई में गठित की गई। उधर, आरोपी राहुल खान का सुराग लगाने के लिए पुलिस की चार टीमों के साथ तीन अन्य टीमों को भी लगाया गया है, जो पिछले 20 दिन से सर्च कर रही हैं।

इस मामले में हिंदू संगठनों के साथ अन्य संगठनों ने भी कड़ी कार्रवाई की मांग उठाई है। इधर, बल्लभगढ़ में निकिता के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

पुलिस के अनुसार रेवाड़ी जिले के बासदूदा गांव में रहने वाले जिला नूंह निवासी राहुल खान पर आरोप है कि वह जिस परिवार की जेसीबी चलता था, उसी परिवार की एक नाबालिग को बहला-फुसलाकर ले गया। पुलिस ने बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला कि 10 अक्टूबर को परिजनों को जब इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने आरोपी को धमकाया, जिसके बाद वह गायब हो गया।

अगले दिन नाबालिग भी संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गई। तत्पश्चात परिजनों ने आरोपी राहुल खान के खिलाफ नामजद मामला दर्ज कराते हुए उसकी बरामदगी की मांग की। हालांकि घटना की शिकायत मिलने के साथ पुलिस ने अपहरण किए जाने की एफआईआर तो दर्ज कर ली थी, लेकिन इस मामले में गंभीरता नहीं दिखाई, जिसकी वजह से आरोपी को पूरा समय मिल गया और उसके बाद से अभी तक उसका कोई सुराग नहीं लगा।

इसी बीच परिजन इस मामले में डीएसपी से भी मिले थे और उन्हें पूरे मामले से अवगत कराकर बरामदगी की गुहार लगाई थी, जिस पर पुलिस की जांच तेज तो हुई, लेकिन बरामदगी फिर भी नहीं हुई। रविवार को जब हिंदू वाहिनी संगठन के पदाधिकारी खोल थाने में पहुंचे और मामले को लेकर रोष जताया तब पुलिस की नींद टूटी।

हिंदू संगठनों ने पुलिस को मामले में तीन दिन का अल्टीमेटम देने के साथ इससे उच्चाधिकारियों को भी अवगत कराया है, जिसके बाद अब पुलिस ने मामले में बेहद तेज गति से जांच शुरू कर दी है। उधर, सोमवार को अन्य संगठनों के भी पदाधिकारी पीड़ित परिवार के पास पहुंचे और उनसे मुलाकात की। डीएसपी मुख्यालय हंसराज की अगुवाई में एसआईटी का गठन किया गया है। एसआईटी की दो टीमों को भी आरोपी का सुराग लगाने के लिए भेजा गया है।

निकिता को न्याय दिलाने की मांग को लेकर रविवार को बल्लभगढ़ के दशहरा मैदान में बुलाई गई महापंचायत में हिंसा होने के बाद पुलिस ने निकिता के घर की सुरक्षा बढ़ा दी है। एक पुलिस पीसीआर के साथ-साथ मां, बाप और भाई को एक-एक गनर उपलब्ध करा दिया गया है। साथ ही सोमवार को उनके भाई नवीन तोमर को सेल्फ डिफेंस के लिए पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने शस्त्र लाइसेंस भी दे दिया। केस का चालान भी दो-तीन दिन में कोर्ट में पेश कर दिया जाएगा।

32 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर भेजा जेल

बल्लभगढ़ के दशहरा ग्राउंड में बुलाई गई महापंचायत में उपद्रव करने वाले 32 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। सोमवार को इन्हें कोर्ट में पेश कर सभी को जेल भेज दिया गया।इनमें तीन कोरोना संक्रमित मिलने पर उन्हें ईएसआई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। सिटी पुलिस बल्लभगढ़ ने कई धाराओं में केस दर्ज किया है।

महापंचायत में शामिल सभी को 10 दिन होम क्वारेंटाइन होने की सलाह, हंगामे में पकड़े 28 में से 3 संक्रमित मिले

निकिता हत्याकांड को लेकर बल्लभगढ़ के दशहरा ग्राउंड में रविवार को महापंचायत के दौरान हुए हंगामे के बाद पुलिस ने जिन 28 लोगों को गिरफ्तार किया है, स्वास्थ्य व कोरोना जांच के बाद तीन लोग पाजिटिव पाए गए हैं। ये लोग सभा के अंदर लगातार घूमते रहे और यहां कोविड-19 नियमों का भी पालन नहीं किया गया।

ऐसे में महापंचायत में शामिल सभी लोगों को अगले 10 दिन तक होम क्वारेंटाइन होने की एडवाइजरी जारी की जा रही है। डीसी ने कहा कार्यक्रम के दौरान लोगों ने कोविड-19 की गाइड लाइन के अनुसार मास्क व सामाजिक दूरी का भी प्रयोग नहीं किया। इससे गंभीरता और बढ़ जाती है। महापंचायत में शामिल अन्य लोगों के पाजिटिव होने की संभावना है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s